Ticker

10/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

Responsive Advertisement

54 Chinese apps banned || 54 और चाइनीज ऐप पर लगा प्रतिबंध, गलवान घाटी झड़प के बाद से अब तक 321 एप पर लग चुकी है पाबंदी


प्रतिबंधित चाइनीज एप देश की संप्रभुता और अखंडता विरोधी गतिविधियों में शामिल थे।


देश की सुरक्षा और निजता के खतरे को देखते हुए केंद्र सरकार ने सोमवार 14 फरवरी 2022 को 54 और चाइनीज मोबाइल पर प्रतिबंध लगा दिया है। इनमें टेसेन्ट एक्सरीवर, नाइस वीडियो, बायडू और विवो वीडियो एडिटर जैसे ऐप शामिल हैं। गलवान घाटी झड़प के बाद से सरकार अब तक 321 चाइनीस ऐप पर पाबंदी लगा चुकी है।
      सूत्रों के मुताबिक केंद्र सरकार ने यह फैसला इलेक्ट्रॉनिक व सूचना प्रौद्योगिकी और खुफिया एजेंसियों की रिपोर्ट के आधार पर लिया है। इसके मुताबिक यह एप सरकार द्वारा दी गई अनुमतियों की आड़ में ग्राहकों के संवेदनशील निजी डेटा एकत्र कर रहे थे। इससे पहले 267 पर पाबंदी लगाई जा चुकी है।

ज्यादातर प्रतिबंधित ऐप के क्लोन इन एप पर हुई कार्रवाई


 ब्यूटी कैमरा,स्वीट सेल्फी एचडी, ब्यूटी कैमरा, सेल्फी कैमरा, राइज ऑफ़ किंगडम, एक्वलाइजर एंड बास बूस्टर, कैमकार्ड फॉर सेल्स फोर्स इंटरप्राइजेज, आइसोलैंड-2 एशेज ऑफ टाइम लाइट, गरेना फ्री फायर, एल्युमिनेट, एस्ट्रोक्राफ्ट, फैन्सीयू प्रो, मूनचैट, बारकोड स्कैनर, क्यूआर कोड स्कैनर, लीका कैम, लास्ट क्रूसेड, वीवा वीडियो एडिटर, टेसेन्ट एक्सरीवर, ओंन मोजी चेस, ओनमोजी अरेना, ऐपलॉक और डबल स्पेस लाइट शामिल है।

दुश्मन देश को भेज रहा था हमारा डाटा 


प्रतिबंधित एप से रियर टाइम आधार पर हासिल डाटा को दुश्मन और गैर मित्र देशों में बिना किसी फिल्टर के भेजा जाता था। इतना ही नहीं इन ऐप से कैमरा माइक्रोफोन के इस्तेमाल से जासूसी और निगरानी गतिविधियों में भी इस्तेमाल गम्भीर चिंता का विषय था।


कब कितने ऐप पर लगी पाबंदी


29 जून 2020--59
10 अगस्त 2020--47
01 सितंबर 2020--118 
19 नवंबर 2020 -- 43

Post a Comment

0 Comments