Ticker

10/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

Responsive Advertisement

15 monkeys killed in Neuralink Project ||बन्दरो के दिमाग मे चिप लगाने वाले Neuralink Project के मर गए 15 बन्दर

15 out of 23 monkeys die in Neuralink's trial to link human brain to computer.

एलन मस्क का NEURALINK PROJECT खतरे में।

एलन मस्क की एक कंपनी है Nehra Link जो बंदरों पर प्रयोग कर रही थी। इस प्रयोग में इंसानों के दिमाग में चिप लगाने का प्रयोग चल रहा था। इस प्रयोग में बंदरों के दिमाग में चिप लगाकर प्रयोग किया जा रहा था। प्रयोग में था कि जो बंदर सोच रहा है वह काम ऑटोमेटिकली होने लगे। यानी कि बिना हाथ पैर हिलाए, केवल आपके मस्तिष्क के अंदर एक चिप डाल दी जाए।
मुख्य मुद्दा यह है कि इंसान के दिमाग में चिप लगाने का कार्यक्रम था। इस प्रयोग में इनके द्वारा 23 बंदरों पर प्रयोग किए गए। एक रिपोर्ट से खुलासा हुआ है कि प्रयोग किए जा रहे 23 बंदरों में से 15 बंदर मर गए।

प्रोजेक्ट में एलन मस्क, बंदरों के दिमाग में बहुत सारे इलेक्ट्रोड लगवा रहे थे। और प्रयोग के आधार पर यह पा रहे थे कि एक बार प्रयोग कर करके देखते हैं अगर प्रयोग सफल हुआ तो इसको इंसानों में Apply किया जायेगा। इंसान जो सोचेगा वह काम अपने आप होने लगेगा।  Automatically उसके दिमाग की सोच के आधार पर Action होने लगेगा। एलन मास्क ने इस कार्य को Neuralink कंपनी से कराया है। मुसीबत ये हुई है कि Neuralink Project के 23 बन्दरो में 15 बंदर मर गए है।

आखिर कैसे मर गए बंदर

एक रिपोर्ट से खुलासा हुआ है कि इन्होने जो प्रयोग किए इन प्रयोगों के अंदर बन्दरो की जो मौतें हुई हैं। उन मौतों का सबसे बड़ा कारण है कि इन्होंने बंदरों के साथ बहुत ही अमानवीय कार्य किए हैं जैसे-
◆ कई बंदरों के भेजे (दिमाग Brain) में जो स्कल (खोपड़ी का मजबूत हिस्सा कंकाल का) मे छेद मिला है। छेद के अंदर से चिप डालकर उसमें न्यूरॉन डालें गए हैं। जो बंदरों के खोपड़ी में छेद किए गए हैं उसकी वजह से बंदरों की मौत हुई है।

◆ प्रयोग में यह भी पाया गया कि बन्दरो के दिमाग में इतनी अधिक मात्रा में इलेक्ट्रोड से डाल दिए गए हैं कि जिसकी वजह से बंदरों के ऊपर इस अमानवीय व्यवहार से उनके कार्य-व्यवहार (Habits) बदल गए। किसी को शॉक आ गया। कई बंदर यो Vomiting कर-कर के मर गये। 

Physician Group Files State Lawsuit and Federal Complaint Against UC Davis Regarding Deadly Monkey Experiments at Lekin Musk-Funded Lab

 इससे अमेरिका में इन दिनों इनके खिलाफ प्रदर्शन हो रहे हैं। अमेरिका में एक फिजीशियन ग्रुप है उन्होंने बकायदा Lawsuit फाइल कर दिया है। एलन मस्क की प्रयोगशाला के ऊपर। यानी डॉक्टर से के एक संगठन ने एलन मस्क की कंपनी में केस दर्ज कर दिया है कि ऐसा अमानवीय व्यवहार बन्दरो के साथ हो रहा है।

Post a Comment

0 Comments